भगवान के डाकिए – Questions


प्रश्न / उत्तर

 

प्रश्न-1   'भगवान के डाकिए' कविता के रचयिता कौन हैं?

 

प्रश्न-2   क्या बादल सीमाओं को मानते हैं?

 

प्रश्न-3   भगवान के डाकिए किन्हें कहा गया है?

 

प्रश्न-4   इस कविता के माध्यम से कवि क्या संदेश देना चाहता है?  

 

प्रश्न-5   बादल और पक्षी क्या संदेश लेकर आते हैं?

 

प्रश्न-6   पक्षी और बादल द्वारा लाई गई चिट्ठियों को कौन-कौन पढ़ पाते हैं? सोचकर लिखिए।   

 

प्रश्न-7   पक्षियों और बादल की चिट्ठियों के आदान-प्रदान को आप किस दृष्टि से देख सकते हैं?   

 

प्रश्न-8   “एक देश की धरती दूसरे देश को सुगंध भेजती है”-कथन का भाव स्पष्ट कीजिए।

 

प्रश्न-9   कवि ने पक्षी और बादल को भगवान के डाकिए क्यों बताया है? स्पष्ट कीजिए।

 

प्रश्न-10   पक्षी और बादल की चिट्ठियों में पेड़-पौधें, पानी और पहाड़ क्या पढ़ पाते हैं?   

 

प्रश्न-11   हमारे जीवन में डाकिए की भूमिका पर दस वाक्य लिखिए।

 

Last modified: Tuesday, 30 July 2019, 10:13 PM